Hindi Story, Hindi Poem, Hindi Kavita, Hindi Kahani, Hindi Article

पसंद नापसंद

पसंद - नापसंद :



एक व्यक्ति को अपनी पत्नी द्वारा पली गई बिल्ली से सख्त नफरत थी |एक वह उसे अपनी कार में घर से लगभग १० किमी दूर छोड़ आया और घर आकर उसने देखा बिल्ली  वहाँ मौजूद है , जो उससे पहले ही आ गई | अगली बार वह उसे घर से लगभग २०-२५ किमी दूर छोड़ कर आया परन्तु फिर वही हश्र हुआ ,बिल्ली उसके घर पहुँचने से पहले ही आ गई | अंत में वह बिल्ली को ३० किमी दूर ले गया ,वहाँ से ५ किमी पूर्व में फिर ५ किमी दक्षिण में, इस प्रकार खूब घुमा फिर कर छोड़ दिया |एक घंटे बाद उसने फोन करके पत्नी से पूछा ,"क्या बिल्ली घर पर है ?" पत्नी ने कहा ,"हाँ , बिल्ली यही पर है , परन्तु आप क्यों पूछ रहे हो ?" पति देव बोले ,"प्लीज उसे फोन दो , मैं घर आने का रास्ता भूल गया हूँ  |"


मित्रों हम किसी को कितना भी न पसंद करे , जीवन में उसकी आवश्यकता कभी भी महसूस हो सकती है !!!!
                   So Don't Ignore Anybody !!!
Reactions:

Post a Comment

कृपया अपनी राय दे ,आपके सुझाव हमारे लिए महत्वपूर्ण हैं |

loading...
[facebook][blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget