Hindi Story, Hindi Poem, Hindi Kavita, Hindi Kahani, Hindi Article

कॉंपीटिशन..




इंस्पेक्टर: तुम्हे किस जुर्म में सजा दी गई है.



पप्पू: बस साहब गवर्मेंट से कॉंपीटिशन हो गया था.




इंसपेक्टर: किस बात का ?




पप्पू: साहब नोट छापने का.




Reactions:

Post a Comment

कृपया अपनी राय दे ,आपके सुझाव हमारे लिए महत्वपूर्ण हैं |

loading...
[facebook][blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget